वरना हम कब का सो जाते😞

Hmm आप ही ने तो कहा था ..
कुछ कहिए ना 

अपनी रूह तक संवार  के दूगी तुझे 
तू मुझमें रहने का फैसला तो कर...!!

फिर

पर ले इरादा तो कर मेरी जान

Hmm वैसे ही रहना जी ...

हमेशा कहना ही है ..
कुछ करने का इरादा ...

मिलिए जरा ...

क्या haha !

बातें तो बहुत सुन  ली अपने ..

Oohoo

अब क्या कहूं

😊

जी

बनना चाहते हैं खुद तेरे ..
मगर बात मनवाने का अदाएं नहीं आते ..

सुनना चाहते हैं हम आप के आवाज 
मगर बात करने का बहाना नहीं आता..

जान ..समझो ना ..सुलाने  का  अलावा भी ...बहुत कुछ

नहीं खोना है तुम्हे ,
इसलिए पाने की जिद्द नही करते ...
वरना आप कब का हमारा हो चुके होते .

सांसों में मेरी,नजदीकियों कि 
मेहक गोल दो ,

मैं ही क्यों इश्क़ जाहिर करूं ,
तू भी कभी बोल दो ..

Hum Dono

I'm a paragraph. Click here to add your own text and edit me. It's easy. I'm a paragraph. Click here to add your own text and edit me. It's easy.I'm a paragraph. Click here to add your own text and edit me. It's easy.

 

Intezaar

  • Black Facebook Icon
  • Black Pinterest Icon
  • Black Instagram Icon
 

© 2023 by Urban Artist. Proudly created with Wix.com

This site was designed with the
.com
website builder. Create your website today.
Start Now